Government Investment Schemes 2022: नए साल में यहां निवेश करके कमाएं ढ़ेर सारा पैसा

Government Investment Schemes 2022: नए साल में यहां निवेश करके कमाएं ढ़ेर सारा पैसा

आज के इस महंगाई के दौर में हर व्यक्ति पैसा बचाना चाहता है. इसके लिए हम सब अलग-अलग प्रकार के इन्वेस्टमेंट या निवेश प्लान का हिस्सा बनने की तलाश में रहते हैं. अगर मार्केट पर नजर डालें, तो आज हजारों इन्वेस्टमेंट प्लांस मौजूद हैं. हालांकि, इसकेसाथ ही, लोगों को निवेश के पैसे डूबने का खतरा भी सताता रहता है. ऐसे में अक्सर लोग इस बात को ध्यान में रखते हैं, कि इन्वेस्टमेंट प्लान ऐसा हो, जिसमें जोखिम एकदम शून्य के बराबर हो. आज हम इस लेख में कुछ ऐसी Government Investment Schemes की सूची लेकर आए हैं, जिनके साथ निवेशकों के लिए एकदम 0% रिस्क की संभावना रहती है. साथ ही, निवेशकों को उच्च रिटर्न भी मिलता है. आइए नज़र डालते हैं, ऐसी ही योजनाओं पर.

National Pension scheme (NPS)

इस Government Investment Scheme को केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2004 में लॉन्च किया गया था. इस स्कीम को लॉन्च के समय, सिर्फ़ सरकारी कर्मचारियो के लिए ही शुरू किया गया था. लेकिन वर्ष 2009 में, भारत सरकार ने इसे स्वरोजगार और निजी क्षेत्र के वेतनभोगी कर्मचारियों सहित सभी के लिए खोल दिया. इस योजना के तहत, ग्राहक को उनके निवेश पर 10-15% ब्याज मिलेगा. 18 से 60 वर्ष की आयु तक भारतीय नागरिक, इस योजना की सदस्यता लेने के पात्र हैं. साथ ही, नियोक्ता भी इस योजना के तहत कर्मचारी की मासिक आय से एक समान राशि का योगदान कर सकते हैं.

Post Office Monthly Income Scheme (POMIS)

यह Government Investment Scheme, किसी भी पारंपरिक बचत खाते की तरह ही काम करती है. हालांकि, यह फिक्स्ड डिपॉजिट से मिलती-जुलती है. व्यक्तिगत खाताधारक, कम से कम 1,000 रूपए और अधिकतम 4.5 लाख रूपए ही इस योजना में निवेश कर सकते हैं. खाताधारक को डाकघर में उसके बचत खाते में जमा ब्याज के रूप में मासिक निश्चित आय प्राप्त होगी. योजना के तहत दी जाने वाली ब्याज की वर्तमान दर 6.6% सालाना है, जो कि हर माह प्रदान की जाती है. 

Public Provident Fund (PPF)

इस Government Investment Scheme को व्यक्ति अपने रिटायरमेंट का फंड इकट्ठा करने के लिए इस्तेमाल कर सकता है. PPF खाता खोलने के लिए कम से कम 500 रुपए का निवेश करना अनिवार्य होता है. खाते को मैच्योरिटी के बाद 5 साल के ब्लॉक के लिए बढ़ाया भी जा सकता है. यह खाते खोलने के तीसरे वित्तीय वर्ष से लेकर छठे वित्तीय वर्ष तक लोन लेने की सुविधा भी उपलब्ध होती है. केंद्र सरकार की तरफ़ से इस योजना को मुख्य रूप से उन लोगों के लिए शुरु किया गया था, जो असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं और पेंशन योजना के लाभ से वंचित रह जाते हैं.

National Savings Certificate (NSC)

यह Government Investment Schemes निश्चित आय निवेश योजना है, जिसे भारत में किसी भी नजदीकी डाक घर में खोला जा सकता है. इस योजना में कम से कम 1000 रुपए की राशि निवेश की जाती है. यह योजना कर-लाभ वाले बचत बांड के तौर पर जानी जाती है, जो ग्राहकों को टैक्स से पैसे बचाने के साथ-साथ निवेश करने के लिए भी प्रोत्साहित करती है. 

Sovereign Gold Bond (SGB)

यह Government Investment Scheme, ​​भारत सरकार की ओर से RBI द्वारा गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम के तहत 2015 में शुरू की गई एक निवेश योजना है. हालांकि, यह बॉन्ड असली सोने के स्थान पर इस्तेमाल नहीं किए जाते हैं. निवेशक, नकद राशि देकर इस योजना से जुड़ते हैं और रिटर्न में नकद राशि प्राप्त करते हैं. योजना के तहत, भुगतान किए गए ब्याज की दर 2.5% प्रति वर्ष है और ब्याज राशि 6 महीने के बाद ग्राहक के खाते में जमा की जाती है. वर्ष 2022 में SGB 10-14 जनवरी के बीच जारी किया जाएगा. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com