Uttar Pradesh: राज्य में दीवाली पर चलेंगे हरित पटाखें, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रतिबंध

Uttar Pradesh: राज्य में दीवाली पर चलेंगे हरित पटाखें, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रतिबंध

सर्वोच्च न्यायालय में पटाखों पर प्रतिबंध के बाद, Uttar Pradesh सरकार ने भी दीवाली पर पटाखों की खरीदी और बिक्री पर रोक लगा दी है. Uttar Pradesh सरकार के गृह विभाग ने एक आदेश जारी कर कहा, कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के उन शहरों में पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जाता है, जहां वायु की गुणवत्ता बहुत खराब है. साथ ही, अच्छी गुणवत्ता वाले क्षेत्रों में हरित पटाखों की बिक्री व उपयोग की अनुमति दी है. 

सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद, Uttar Pradesh के अपर मुख्य सचिव, Avnish Kumar Awasthi ने बताया, कि "Uttar Pradesh प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा राज्य के 27 शहरों में वायु गुणवता की निगरानी की जा रही हैं. वर्ष 2021 में जनवरी से सितंबर तक लखनऊ, नोएडा, वाराणसी, झांसी, प्रयागराज, मेरठ, अलीगढ़, बुलंदशहर, गोरखपुर, उन्नाव, मुजफ्फरनगर और अयोध्या समेत कुछ शहरों में वायु गुणवत्ता स्तर प्रदूषित पाया गया है."  

साथ ही, उन्होंने कहा, कि "सर्वोच्च न्यायालय ने 23 जुलाई, 2021 के आदेश में स्पष्ट किया था, कि वायु की गुणवत्ता थोड़ी प्रदूषित अथवा अच्छी है. ऐसे में संबंधित प्राधिकारी हरित पटाखों की बिक्री व उपयोग की अनुमति दे सकते हैं. राज्य सरकार ने अदालत के निर्देशानुसार, कोविड 19 की परिस्थितियों को देखते हुए निर्धारित समय सीमा के लिए हरित पटाखों की अनुमति प्रदान की है. सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया है, कि पटाखों की बिक्री और उपयोग को लेकर समय सीमा तय करे".

आपकों बता दें, कि सर्वोच्च न्यायालय ने सभी राज्यों को कड़ाई से आदेश दिया था, कि पटाखों की बिक्री और उपयोग पर प्रतिबंध लगाएं और सख्ती से नियमों का पालन करें. सर्वोच्च न्यायालय ने साफ तौर पर कहा, कि नियमों के अनुसार दिवाली पर हरित पटाखे या कम प्रदूषण वाले पटाखें ही बिकेंगे. साथ ही, समय सीमा भी तय की थी, जिसके अनुसार, शाम 8 बजे से 10 बजे तक ही पटाखें चलाए जा सकते हैं. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com