Union Budget 2022: विदेश यात्रा करने वालों के लिए क्या कुछ खास है इस बजट में? जानें विस्तार से

Union Budget 2022: विदेश यात्रा करने वालों के लिए क्या कुछ खास है इस बजट में? जानें विस्तार से
anand purohit

आज भारत की वित्त मंत्री, Nirmala Sitharaman ने Union Budget 2022 पेश किया है. इस बजट में बहुत से बड़े बदलाव और कई महत्वपूर्ण घोषणाओं की जानकारी दी गई है. Union Budget 2022 को आम लोगों की सुविधा को ध्यान में रखकर बनाया गया है. इस बजट में रोजगार और तकनीक को लेकर बहुत सारी नई योजनाएं शामिल की गई हैं.

जैसा कि हम सब जानते हैं, कि भारत में विदेश यात्रा करने वालों की एक बहुत बड़ी जनसंख्या मौजूद है. इसलिए, Union Budget 2022 में इस जनसंख्या को लेकर भी काफी अहम घोषणा की गई है. यह अहम घोषणा पासपोर्ट को लेकर है. वित्त मंत्री Nirmala Sitharaman ने Union Budget 2022 में इस बात का ऐलान किया है, कि अब जो नए पासपोर्ट बनाए जाएंगे उनमें एक चिप लगाई जाएगी. यह चिप आम नागरिकों की सुविधा के लिए ही लगाई जाएगी. साथ ही, इस चिप के लगाने से फर्जी पासपोर्ट बनाने वालों पर रोक लगाई जा सकेगी. यह नए पासपोर्ट, वर्ष 2022 में ही मिलने शुरू हो जाएंगे. नई तकनीक से लैस इन e-passport से लोगों को बहुत सी सुविधाएं मिलेंगी.

इस e-passport के साथ देश के हर पासपोर्ट सेंटर को भी अपडेट किया जाएगा. यह पासपोर्ट सर्विस शुरू करने के बाद, भारत उन चुनिंदा देशों की लिस्ट में शामिल हो जाएगा, जहां पहले से e-passport सर्विस मौजूद है. यह जानकारी खुद वित्त मंत्री,Nirmala Sitharaman ने साझा की है.

इससे पहले, विदेश मंत्रालय के सचिव, Sanjay Bhattacharya ने ट्विटर पर घोषणा की, कि भारत को जल्द ही सुरक्षित बायोमेट्रिक डेटा के साथ ई-पासपोर्ट मिलेगा. उन्होंने कहा था, कि e-passport अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन के मानकों के अनुरूप होंगे. विदेश मंत्री S. Jaishankar ने यह भी खुलासा किया था, कि भारत माइक्रोचिप को लेकर India Security Press के साथ बातचीत कर रहा है.

क्या होगी E-Passport की विशेषताएं?

पासपोर्ट के पीछे जो चिप लगाई जाएगी, वह 64 किलोबाइट स्टोरेज स्पेस और एक एम्बेडेड आयताकार एंटीना के साथ आएगी. चिप लगाए जाने के पहले चरण में, 30 अंतरराष्ट्रीय यात्राओं तक का डेटा होगा. हालांकि, बाद के चरण में, चिप में पासपोर्ट धारक की तस्वीर के साथ-साथ बायोमेट्रिक डेटा, जैसे उंगलियों के निशान को संग्रहीत करने की भी उम्मीद है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर कोई चिप से छेड़छाड़ करने की कोशिश करता है, तो नतीजतन पासपोर्ट ऑथेंटिकेशन फेल हो जाएगा.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com