CM Yogi Adityanath News: तेज़ी से फैलते वायरल बुखार से हुए चिंतित, पहुंचे फ़िरोजाबाद

CM Yogi Adityanath News: तेज़ी से फैलते वायरल बुखार से हुए चिंतित, पहुंचे फ़िरोजाबाद

उत्तर प्रदेश के CM Yogi Adityanath वायरल बुखार के बढ़ते मामलों के प्रति काफी चिंतित हैं. आपको बता दें, पिछले एक हफ़्ते से, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के क़रीब छह ज़िलों में वायरल बुख़ार काकहर बरस रहा है. वायरल बुखार से सबसे ज़्यादा मौतें फ़िरोज़ाबाद में हुई हैं. फ़िरोज़ाबाद में कुल 40 मौतें हुईं जिसमें 32 बच्चे शामिल थे. फ़िरोज़ाबाद के अलावा मथुरा, कासगंज, आगरा, एटा और मैनपुरी में अब तक बुख़ार से क़रीब 50 लोगों की मौतें हो चुकी हैं जिनमें ज़्यादातर बच्चे हैं.

फ़िरोज़ाबाद की मुख्य चिकित्सा अधिकारी Neeta Kulshrestha ने बताया, की मेडिकल कॉलेज और ज़िला अस्पताल में चिकित्सा व्यवस्था कर रखी है. उन्होंने कहा, की मरीज़ों की संख्या काफ़ी ज़्यादा है. इन मरीजों की इस बीमारी से बहुत ही जल्दी मौत हो रही है. उन्होंने यह भी कहा, कि यह बीमारी बच्चों पर ज्यादा प्रभाव डाल रही है. जिस कारण बीमारी से मरने वालों में बच्चों की संख्या ज़्यादा है. उन्होंने कहा, कि जिन इलाक़ों में ज़्यादा मामले पाए गए हैं, वहां कैंप लगाकर मरीजों का इलाज किया जा रहा है. मरीजों को ज़रूरत पड़ने पर उन्हें अस्पताल में शिफ़्ट भी किया गया है. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि फ़िरोज़ाबाद के अलावा मथुरा में भी यह बीमारी धीरे धीरे बढ़ रही है. मथुरा में अब तक इस वायरल बुखार से 9 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि, कासगंज में 3 लोग इस बुख़ार का शिकार हुए हैं. अस्पतालों में भी बिस्तरों की कमी हो रही है. फ़िरोज़ाबाद के ज़िला अस्पताल में वायरल बुखार से पीड़ित 100 से ज़्यादा बच्चों का इलाज हो रहा है.

CM Yogi Adityanath पहुंचे फ़िरोजाबाद

वायरल बुखार की स्थिति की जानकारी लेने के लिए CM Yogi Adityanath सोमवार को फ़िरोज़ाबाद पहुंचे. मुख्यमंत्री ने डॉक्टरों को निर्देश देते हुए कहा, की मेडिकल एजूकेशन और सर्विलांस टीम से तत्काल जांच कराई जाए. जिससे यह पता लग सकता है, कि यह बीमारी डेंगू है या फिर कुछ और. फ़िरोज़ाबाद में मेडिकल कॉलेज के बाद मुख्यमंत्री सुदामा नगर भी गए जहां सबसे ज़्यादा इस बीमारी से पीड़ित लोग हैं.

CM Yogi Adityanath ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, कि अस्पतालों और निजी क्लीनिकों पर वायरल बुखार और अन्य संक्रमक बीमारियों की दवा उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा, कि  ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में सफ़ाई, सैनिटाइज़ेशन और फ़ॉगिंग का काम सक्रियता से किया जाए. जलभराव को रोकने के लिए व्यापक व्यवस्था की जाए.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com