Mukhyamantri Slum Swasthya Yojana के तहत बढ़ेगी मोबाइल मेडिकल यूनिट्स की संख्या

Mukhyamantri Slum Swasthya Yojana के तहत बढ़ेगी मोबाइल मेडिकल यूनिट्स की संख्या

Mukhyamantri Slum Swasthya Yojana छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पिछले साल 1 नवंबर को जरूरतमंदों को मुफ्त और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं प्रदान करने के लिए शुरू की गई एक पहल थी. कोरोना काल में इन मोबाइल मेडिकल यूनिट्स (एमएमयू) ने काफ़ी मदद प्रदान की. 

अब छतीसगढ़ सरकार इन मोबाइल मेडिकल यूनिट्स's की संख्या बढ़ाने जा रही है. अभी तक छत्तीसगढ़ आधुनिक उपकरणों से लैस 60 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स प्रदेश के सभी 14 नगर निगमों को स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करा रहे हैं.

इस योजना के तहत योग्य डॉक्टरों और प्रशिक्षित टीम 14 नगर निगमों की सभी 1,600 बस्तियों में घर-घर जाकर परीक्षण-उपचार-चिकित्सा प्रदान किये. अब तक कम से कम 10,000 शिविर आयोजित किए जा चुके हैं. पांच लाख से अधिक रोगियों ने Mukhyamantri Slum Swasthya Yojana का लाभ उठाया है.

एम बी बी एस डॉक्टरों के साथ फार्मासिस्ट भी हैं मौजूद. इन मोबाइल मेडिकल यूनिट्स में एमबीबीएस डॉक्टर करीब 1,600 बस्तियों में शिविर लगाकर मरीजों को स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करा रहे हैं.

कोरोना काल मे सहायक रहीं हैं मोबाइल मेडिकल यूनिट्स. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक बयान में कहा कि इस योजना से अब तक पांच लाख मरीजों का इलाज पूरा करने  में काफी मदद की है. यह मोबाइल मेडिकल यूनिट्स कोरोना काल मे भी काफी सहायक रहीं हैं.'

रायपुर में 15 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स से लगभग 1.26 लाख, दुर्ग में 4 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स से लगभग 35,000, भिलाई में 3 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स से लगभग 34,000, राजनांदगांव में मोबाइल मेडिकल यूनिट्स से लगभग 33,000, बिलासपुर में 4 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स से लगभग 51,000, कोरबा में 8 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स से लगभग 55,000 रोगियों ने लाभ उठाया है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com