Stock Market Trading Tips: निवेश के 5 गोल्डन रूल्स जो करेंगे पैसों की बारिश

Stock Market Trading Tips: निवेश के 5 गोल्डन रूल्स जो करेंगे पैसों की बारिश

आमतौर पर शेयर बाज़ार (Stock Market) में निवेश करने वाले निवेशकों का ऐसा मानना होता है, कि अगर वो बाज़ार में पैसे लगाते हैं तो तुरंत ही अच्छा मुनाफ़ा मिलने लगेगा. मगर यह बात काफ़ी हद तक गलत है क्योंकि निवेश के दौरान, निवेशकों के लिए धैर्य, रिसर्च और अनुशासन महत्वपूर्ण है. आपको बता दें, कि कई बार ऐसा भी देखा जाता है कि कुछ घंटे में स्टॉक्स से मोटा मुनाफ़ा हुआ है. तो वहीं इससे उलट, कई बार निवेशकों को भारी नुकसान भी उठाना पड़ गया होगा.

शेयर बाज़ार में अगर आप भी पैसा कमाना या लगाना चाहते हैं, तो यहां दिए गए टिप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं. हालांकि, यहां दिए गए टिप्स मुनाफ़े की गारंटी तो नहीं देते, मगर आपके निवेश को कारगर बनाने में सफ़ल ज़रूर होंगे.

Stock Market में निवेश के लिए ज़रूरी टिप्स

1. फंडामेंटल मजबूती: शेयर बाजार में खासकर दो तरह के ट्रेडर यानी निवेशक होते हैं. इनमें से एक वो, जिनका फोकस फंडामेंटल होगा और दूसरे जो बाज़ार की अटकलों पर फैसला लेते हैं. वहीं इन दोनों में बुनियादी फर्क, स्‍टॉक की कीमत पर उनका नज़रिया है. फंडामेंटल निवेशक हमेशा से कंपनी की मजबूती पर ध्‍यान देंगे, न कि स्टॉक्स की कीमत पर और ये बाज़ार से पैसा बनाने के लिए एक अच्छा विकल्प भी माने जाते हैं.

2. अनुशासन: शेयर बाज़ार में अनुशासन बहुत ज़रूरी है और यहां का इतिहास देखें, तो कई बार बाज़ार में भारी उतार-चढ़ाव के चलते निवेशक अपनी कमाई तक डुबो देते हैं, वो भी तब जब मार्केट में बुलिश यानी तेज़ी रही हो. इस वजह से निवेश के लिए, अनुशासन भरा रवैया रखना चाहिए. वहीं अगर लॉन्‍ग टर्म में कमाई करना चाहते हैं, तो निवेश का व्यवस्थित अप्रोच भी ज़रूरी है.

3. स्पष्ट रहे लक्ष्य: निवेश करते समय इस बात का ध्यान रखें, कि आपका लक्ष्य वास्तविक हो. अक्सर निवेशकों को लगता है, कि उन्‍होंने जो निवेश किया है वह बेस्‍ट रिटर्न देगा. मगर अगर आपका फाइनेंशियल लक्ष्य सच्चाई से दूर है, तो आप परेशानी में फंस जाएंगे. इसके साथ ही, आपके निवेश से अच्छे रिटर्न या मुनाफ़े की उम्मीद भी बेकार हो जाएगी.

4. अफवाहों पर भरोसा: शेयर बाज़ार का ये अनकहा नियम है, कि कभी भी दूसरों को पूरी तरह से फॉलो न करें और अफवाहों से जितना हो सके उतना दूर रहे. इसके लिए, कभी भी कोई जानकारी मिलने पर उसकी विश्वसनीयता की जांच ज़रूर करें. इसके अलावा, अपने रिसर्च को हमेशा अपडेट करते रहें, जिससे आप अफवाहों के शिकार न हों और आने वाले नुकसान को टाला जा सके.

5. Price/Earning अनुपात: Price/Earning अनुपात (Price/Earning Ratio) से यह पता चलता है, कि निवेशकों की कमाई कितनी होगी. मगर इसको जानने क लिए, आपको पहले EPS (Earning Per Share) निकालना होगा. अब मान लीजिए, कि एक कंपनी जिसका नाम AB है, उसके पास 1000 शेयर हैं और नेट प्रॉफिट 1 लाख है, तो उसका EPS 100 रूपए होगा.

ऊपर बताए गए टिप्स के अलावा वर्तमान समय की बात करें, तो इस वक़्त महिंद्रा एंड महिंद्रा (Mahindra and Mahindra), गेल इंडिया (Gail India), रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (Reliance Industries), पारस डिफेंस एंड स्पेस टेक्नोलॉजीज़ (Paras Defence and Space Technologies), टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज़ (Tata Consultancy Services), हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) और भारती एयरटेल (Bharti Airtel), आदि में निवेश भी अच्छा विकल्प है.

Related Stories

No stories found.