पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने उड़ाई आम जनता की नींद, कांग्रेस पार्टी ने किया प्रदर्शन

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने उड़ाई आम जनता की नींद, कांग्रेस पार्टी ने किया प्रदर्शन

देश में तेल कंपनियां पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी कर रही है. उनका मकसद अपने घाटे को जल्द से जल्द पूरा करना है. यही वजह है, कि पिछले 10 दिनों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगभग 6.40 रुपए प्रति लीटर तक का इजाफा हो चुका है.

तेल कंपनियों ने बृहस्पतिवार को फिर से देश के सभी शहरों में पेट्रोल- डीजल के दामों को बढ़ा दिया है. इसी के साथ देश की राजधानी दिल्ली में, पेट्रोल की कीमत 80 पैसे प्रति लीटर बढ़त के साथ ₹100 के आकड़ें को पार कर चुकी है. वहीं बात करें अगर डीजल की, तो इसमें में भी 80 पैसे प्रति लीटर का इज़ाफ़ा दर्ज़ किया गया है, जिसके साथ ही इसकी कीमत 93 रुपए प्रति लीटर हो चुकी है. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में अब तक सबसे महंगा पेट्रोल बिक रहा है, जहाँ 116.68 रुपए प्रति लीटर पेट्रोल की कीमत पहुंच चुकी है.

लगातार बढ़ते दामों को लेकर कांग्रेस पार्टी का विरोध प्रदर्शन

कांग्रेस पार्टी के महासचिव राहुल गांधी (Rahul Gandhi) आज दिल्ली के विजय चौक पर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. यह धरना प्रदर्शन पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों के विरोध में किया जा रहा है. इस प्रदर्शन के द्वारा कांग्रेस पार्टी देश भर में “महंगाई मुक्त भारत” अभियान चलाएगी, जिसके तहत पूरे देश में 31 मार्च से लेकर 7 अप्रैल तक रैलियां और धरना प्रदर्शन किया जाएगा और ये अभियान तब तक जारी रहेगा, जब तक की केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों को कम नहीं करती.

वहीं दूसरी तरफ, अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chaudhary) ने कहा है, कि मोदी सरकार आम लोगों की जेबों पर डाका डाल रही है और हम इसके खिलाफ प्रदर्शन जरूर करेंगे. कांग्रेस पार्टी ने शिमला में भी आज एक विरोध प्रदर्शन किया है. वहां पर प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) शिमला के डीसी ऑफिस के बाहर इस प्रदर्शन में शामिल हो सकती हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि कांग्रेस पार्टी समय-समय पर केंद्र सरकार के खिलाफ ऐसे विरोध प्रदर्शन करती रहती है. बढ़ती तेल की कीमतों का विरोध करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक पोस्ट भी साझा की है.

क्या है सरकार का जवाब ?

वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने मंगलवार को राज्यसभा में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हुई वृद्धि की सबसे बड़ी वजह, रूस और यूक्रेन में चल रहे युद्ध को बताया है.

Related Stories

No stories found.