विमानों के घरेलू रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल सेवाओं के लिए GST 18% से घटाकर 5% हुआ

विमानों के घरेलू रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल सेवाओं के लिए GST 18% से घटाकर 5% हुआ

केंद्र सरकार की तरफ से विमानन क्षेत्र की जरूरतों को देखते हुए बड़ी घोषणा की गई है. इस घोषणा के अनुसार, अब से विमानन क्षेत्र के लिए घरेलू विमानों के रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल सेवाओं पर GST को 18% से घटाकर 5% कर दिया गया है. उद्योग जगत के खिलाड़ी लंबे समय से सरकार से विमान MRO सेवाओं पर GST दर कम करने की मांग कर रहे थे.

मंत्रालय की तरफ से यह जानकारी भी साझा की गई है, कि एविएशन टर्बाइन फ्यूल पर VAT में कमी का मुद्दा राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ उठाया गया है. कुल 11 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों ने एटीएफ पर VAT को 5% से कम कर दिया है.

केंद्रीय विमानन मंत्री Gen VK Singh (Retd) ने आज राज्य सभा में भी यह बात की है, कि केंद्र सरकार उड़े देश का आम नागरिक योजना (UDAN Scheme) के लिए पूरी मेहनत कर रही है. इस योजना को पूरा करने के लिए सरकार ने पहले ही 65 हवाई अड्डों को जोड़ने वाले 403 मार्गों को 31 जनवरी 2022 तक चालू कर दिया है.

AAI ने अगले पांच वर्षों में लगभग 25,000 करोड़ रुपए के अनुमानित पूंजीगत व्यय के साथ नए और मौजूदा हवाई अड्डों का विकास शुरू किया है. इसमें नए टर्मिनलों का निर्माण, मौजूदा टर्मिनलों का विस्तार और संशोधन, मौजूदा रनवे, एप्रन, एयरपोर्ट नेविगेशन सर्विसेज इंफ्रास्ट्रक्चर, कंट्रोल टावर और तकनीकी ब्लॉक आदि का विस्तार या सुदृढ़ीकरण शामिल है.

सरकार ने देश भर में 21 ग्रीनफील्ड हवाई अड्डों की स्थापना के लिए 'सैद्धांतिक' मंजूरी दे दी है. अब तक, महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग और शिरडी, पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर, सिक्किम के पकयोंग, केरल के कन्नूर, आंध्र प्रदेश के ओरवक्कल, कर्नाटक के कलबुर्गी और उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में ऐसे आठ हवाई अड्डों का संचालन किया जा चुका है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि Covid- 19 महामारी के दौरान यात्रियों की संख्या में काफी कमी आई थी. लेकिन अब हालात सामान्य होने के साथ ही विमानन उद्योग में यात्रियों की संख्या में फिर से बढ़ोतरी देखी जा सकती है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com