Tata Steel Merger News: टाटा ग्रुप का बड़ा फैसला, स्टॉक्स में दिखा ज़बरदस्त उछाल

 Tata Steel Merger News: टाटा ग्रुप का बड़ा फैसला, स्टॉक्स में दिखा ज़बरदस्त उछाल
Pierre Crom

टाटा ग्रुप (Tata Group) ने अपनी 7 बड़ी कंपनियों के विलय को लेकर एक अहम फैसला किया है. मौजूदा जानकारी के मुताबिक, इस ग्रुप से जुड़ी सभी मेटल कंपनियों को अब टाटा स्टील (Tata Steel) के नाम से जाना जाएगा. एक्सचेंज फाइलिंग में ऐसा कहा गया है, कि कंपनी की बोर्ड बैठक में यह फैसला लिया गया है. दरअसल, विलय में शामिल कंपनियों के बोर्ड, स्‍वतंत्र निदेशकों की कमिटी और इस कंपनी की ऑडिट कमिटी ने विलय के प्रस्‍ताव की समीक्षा करने के बाद टाटा ग्रुप से इसकी सिफारिश की थी.

टाटा स्टील के बोर्ड ने टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स (Tata Steel Long Products), टाटा मेटालिक्स (Tata Metaliks), द टिनप्लेट कंपनी ऑफ इंडिया (The Tinplate Company of India), टीआरएफ (TRF), इंडियन स्टील एंड वायर प्रोडक्ट्स (Indian Steel & Wire Products), टाटा स्टील माइनिंग (Tata Steel Mining) और एसएंडटी माइनिंग (S&T Mining) की मूल कंपनी के साथ विलय को मंजूरी दे दी है. हालांकि, सभी कंपनियों को अपने शेयरधारकों, सेबी (SEBI), सक्षम अथाॉरिटी, आदि से अनुमति लेनी अभी बाकी है. वहीं, सेबी के नियम और ज़रूरत के हिसाब से इससे जुड़े डॉक्‍यूमेंट्स या सर्टिफिकेट्स शेयर बाज़ारों को भी उपलब्‍ध कराए जाएंगे.

गौरतलब है, कि विलय पर टाटा स्टील ने कहा है, कि विलय की गई संस्थाओं के संसाधनों को शेयरधारक मूल्य बनाने के मौके को अनलॉक करने के लिए इकठ्ठा किया जा सकता है. साथ ही, इसके परिणामस्वरूप एक-दूसरे की सुविधाओं को अधिक बेहतर बनाने के तरीकों पर भी काम होगा. फ़िलहाल, कंपनी 5 एस (5 S) रणनीति के हिसाब से काम करेगी. आपको बता दें, कि 5 एस मतलब - सरलीकरण (Simplification), तालमेल (Synergy), पैमाने (Scale), स्थिरता (Sustainability) और गति (Speed).

इस खबर के साथ ही, शेयर बाज़ार (Share Market) में मौजूद टाटा स्टील के स्टॉक्स में भी 4% का उछाल देखा गया. यह स्टॉक कल बीएसई (BSE) पर 103.65 रूपए पर बंद हुआ था, वहीं आज बाज़ार खुलने पर इसका स्तर 107.90 रूपए था. ऐसे में, कंपनी का वर्तमान बाज़ार पूंजीकरण पहले से बढ़कर 1.28 लाख करोड़ रूपए पहुंच गया.

Image Source

यह भी पढ़ें: Multibagger Stock: इस स्टॉक ने निवेशकों के 1 लाख को 1 महीने में किया 2.50 लाख

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com