Arvind Kejriwal: गोवा को मिलेगी 300 यूनिट मुफ़्त बिजली, कहा गोवा अब बदलाव के लिए तयार है

Arvind Kejriwal: गोवा को मिलेगी 300 यूनिट मुफ़्त बिजली, कहा गोवा अब बदलाव के लिए तयार है

दिल्ली के मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal ने पंजाब और उत्तराखंड में चुनाव प्रचार बुधवार से शुरू कर दिया हैं. इसके साथ ही उन्होंने गोवा में चुनाव से पूर्व चार वादों का ऐलान किया हैं. इन वादों में एक वादा गोवा को 300 यूनिट तक मुफ़्त बिजली देने का किया हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि CM Kejriwal एक दिन पहले दोपहर 2:45 पर गोवा पहुंचे थे. आम आदमी पार्टी के पणजी कार्यालय क्वार्टर में, बुधवार को 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया. 

आम आदमी पार्टी प्रमुख Arvind Kejriwal ने कहा, कि "गोवा ने कई वर्षों से गंदी राजनीति देखी हैं. उन्होंने आगे कहा की अगर विधायकों की खरीद-फरोख्त हो रही है तो यहां चुनाव की क्या जरूरत हैं. काँग्रेस और भारतीय जनता पार्टी ने गोवा के लोगों को धोखा दिया हैं. इस बार आम आदमी पार्टी को गोवा मे बहुत समर्थन मिल था हैं. गोवा के लोग स्वच्छ और नई राजनीति चाहते हैं. इस बार गोवा के लोगों ने बदलाव लाने का फैसला किया है."

Kejriwal ने गोवा विधानसभा के लिए चार वादे किये हैं. इन चार वादों में  उन्होंने कहा कि, हर परिवार को 300 यूनिट मुफ्त बिजली मिलेगी, पुराने बिजली के बिल माफ कर दिए जाएंगे. बिजली की कटौती नहीं होगी. किसानों को खेती के लिए मुफ्त बिजली प्रदान की जाएगी. आम आदमी पार्टी सूत्रों के अनुसार 300 यूनिट से अधिक की खपत पर 50 प्रतिशत का शुल्क लिया जाएगा.

Arvind Kejriwal 300 यूनिट मुफ्त बिजली के वादों के साथ चुनावी राज्यों में अपने अभियान को आगे बढ़ा रहे हैं. पंजाब मे जहां बिजली की समस्या एक चुनावी मुद्दा है. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने तीन वादे किए: हर घर में 300 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी. प्रत्येक घरेलू उपभोक्ता के बिजली के बिल को माफ किया जाएगा. 24 घंटे बिजली आपूर्ति प्रदान की जाएगी. 

इसके अलावा, आम आदमी पार्टी खुद को कांग्रेस और भाजपा के विकल्प के रूप में स्थापित करने के लिए 'दिल्ली मॉडल' को बढ़ावा दे रही है. दिल्ली में Kejriwal सरकार द्वारा 200 यूनिट मुफ़्त बिज़ली दी जा रही हैं. अब सरकार द्वारा उत्तराखंड और पंजाब में भी 300 यूनिट मुफ़्त बिज़ली दी जाएगी. 

यह भी पढ़ें: Jammu-Kashmir में धारा 370 को फिर से बहाल करवाना चाहते हैं नेता? होने जा रही सर्वदलीय बैठक

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com