Aroosa Alam: Captain Amarinder और पंजाब की सियासत में इस नए नाम की हुई एंट्री

Aroosa Alam: Captain Amarinder और पंजाब की सियासत में इस नए नाम की हुई एंट्री

पंजाब में सियासी कलह ख़त्म होने का नाम नहीं ले रही है और फ़िलहाल यहां अब एक नए नाम, Aroosa Alam का शोर सुनाई दे रहा है. आपको बता दें, कि इस नए नाम की शुरुआत पंजाब के उप मुख्यमंत्री, Sukhjinder Singh Randhawa के एक बयान से हुई थी. दरअसल, उप मुख्यमंत्री Randhawa ने एक ऐसी महिला के खिलाफ़ जांच के आदेश दे दिए, जो न तो भारत की है और न ही उस पर पहले कोई सवाल उठा था. उस महिला का नाम है, Aroosa Alam.

Aroosa Alam जो कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री, Capt Amarinder Singh की मित्र मानी जाती है और कई बार दोनों को एक साथ भी देखा गया है. तो आइए जानते है उस महिला के बारे में, जिनकी वजह से पंजाब की सियासत में इतनी हलचल पैदा हो गई है. 

कौन है Aroosa Alam?

Aroosa Alam पाकिस्तान की पूर्व पत्रकार है, जो एक समय पाकिस्तान के रक्षा मामलों से जुड़े विषयों पर पत्रकारिता करती थी. जाहिर है, कि इस वजह से पाकिस्तानी सेना के अंदर उनकी अच्छी पकड़ भी मानी जाती है. हालांकि, सेना में पत्रकार के रूप में पहचान उन्हें उनकी मां की वजह से मिली थी. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि पूर्व पत्रकार Aroosa Alam पाकिस्तान के समाजवादी नेता, अकलीन अख्तर की बेटी है. वह पाकिस्तानी सेना से बेहद करीब रही हैं, जिस वजह से उन्हें 'रानी जनरल' के नाम से भी जाना जाता था. मिली जानकारी के मुताबिक़, Aroosa ने सेना में अपनी मां के संबंधों की वजह से ही पत्रकारिता करने की सोची थी. वहीं वर्ष 1990 में, उनकी एक रिपोर्ट ने पाकिस्तान की सियासत में तहलका मचा दिया था. दरअसल, यह रिपोर्ट एक पनडुब्बी सौदे को लेकर थी और रिपोर्ट की वजह से वर्ष 1997 में उस वक्त के नौसेना प्रमुख, मंसूरुल हक की गिरफ्तारी हो गई थी. 

Amarinder Singh और Aroosa Alam के रिश्ते 

बताया जा रहा है, कि Aroosa Alam एक शादीशुदा औरत हैं और उनके दो बच्चे भी हैं. हालांकि ऐसा कहा जाता है, कि फिलहाल वे अकेली रहतीं है. भारत में Aroosa को पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री, Amarinder Singh की वजह से जाना जाता है. हालांकि, इन दिनों के रिश्तों को लेकर कई बार सवाल भी उठाए गए है. वर्ष 2007 में जब इन दोनों को कई बार साथ देखा गया था, तब भी कई लोगों ने इस पर सवाल उठाए थे. उस वक्त Aroosa Alam ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर स्पष्ट किया था, कि वे दोनों सिर्फ दोस्त है. वर्ष 2017 में Amarinder Singh के मुख्यमंत्री शपथ ग्रहण समारोह में भी, Aroosa ख़ास मेहमान के रूप में उपस्थित थी. 

मौजूदा जानकारी के मुताबिक़, Aroosa वर्ष 2004 में पहली बार Amarinder Singh से मिली थी, जब वह पाकिस्तान के दौरे पर गए थे. वहीं Aroosa भी लगभग 16 साल से भारत आती-जाती रही है, इस बात की पुष्टि Amarinder Singh के मीडिया सलाकाहर, Raveen Thukral ने की है. 

क्या है पूरा विवाद 

कई महीनों से पंजाब कांग्रेस में छिड़ी घमासान के बीच, हाल ही में Amarinder Singh ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया था. जिसके बाद बागी रुख अपनाते हुए, उन्होंने अपनी एक अलग पार्टी बनाने का ऐलान किया है. इसके बाद से ही Amarinder Singh और कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है. वहीं इन सबके बीच अचानक से ही, Aroosa Alam का नाम भी इस क्रम में जुड़ गया. दरअसल पंजाब के उप मुख्यमंत्री, Sukhjinder Singh ने Amarinder Singh की महिला मित्र Aroosa Alam के ISI लिंक की जांच करवाने के आदेश दिए थे. हालांकि, आज दिल्ली में उन्होंने जांच करवाने से मना कर दिया. उन्होंने कहा, कि"यह दो देशों से जुड़ा मामला है, इसलिए इसकी जांच केवल RAW या IB ही कर सकती है".

फ़िलहाल Sukhjinder Randhawa के बयान के बाद, कैप्टन भी कहा चुप बैठने वाले थे, उन्होंने एक के बाद एक कई सारे सवालों का मुंहतोड़ जवाब दिया है. साथ ही, उन्होंने Aroosa की Sonia Gandhi के साथ तस्वीर भी साझा की है.  

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com