Amarinder Singh: इस्तीफे में छलका दर्द, कहा- बेइज्जत कर निकाला मुझे

Amarinder Singh: इस्तीफे में छलका दर्द, कहा- बेइज्जत कर निकाला मुझे

पंजाब कांग्रेस में सियासी घमासान अभी तक रुका नहीं है. वहीं, इन सबके बीच पूर्व मुख्यमंत्री, Capt Amarinder Singh ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया है. उन्होंने, कांग्रेस अध्यक्ष Soniya Gandhi को 7 पेज का इस्तीफ़ा सौंपा है. बता दें, कि Capt. Amarinder Singh ने इस्तीफे में अपने पूरे राजनीतिक जीवन का जिक्र किया है. साथ ही, उन्होंने कांग्रेस हाईकमान और Navjot Singh Sidhu पर भी कई सवाल खड़े किए हैं. 

गौरतलब है, कि Capt. Amarinder Singh ने पंजाब कांग्रेस में मचे सियासी घमासान के बीच 18 सितंबर को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा दिया था. जिसके बाद उन्होंने कांग्रेस पार्टी छोड़कर, नई पार्टी बनाने का ऐलान किया था. जिसके बाद कल मंगलवार को औपचारिक रूप से इस्तीफ़ा दिया है. Capt. Amarinder Singh ने कहा था, कि "सही समय आने पर, वह कांग्रेस अध्यक्ष को अपना इस्तीफ़ा दे देंगे. 

Soniya Gandhi से खुलकर जताई नाराज़गी

Capt. Amarinder Singh ने लिखा, कि, "आधी रात को विधायक दल की बैठक बुलाकर, आपके और आपके बच्चों के आदेश पर मेरे खिलाफ साजिश रची गई. जब भी कांग्रेस चाहती, मैं विधायक दल की बैठक बुलाता. मुझे तो अगले दिन सुबह पता चला, कि यह सब किया गया है. विधायक दल की मीटिंग भी ट्विटर पर बुलाई गई थी, ये मेरे लिए घोर अपमान था. जब आपने फोन कर कहा, कि मुझे इस्तीफा देना होगा, तो मैंने इस्तीफा दे दिया."

Navjot Singh Sidhu पर साधा निशाना

कैप्टन ने कहा, कि " Navjot Singh Sidhu ने मुझे लगातार निजी और सार्वजनिक तौर पर बेइज्जत किया.  मैं उनके पिता की उम्र का था, इसके बावजूद वह मेरे खिलाफ बयान बाजी करते रहे. सिद्धू के खिलाफ़ कार्रवाई करने की बजाय, Rahul Gandhi और Priyanka Gandhi ने उनका समर्थन किया. उन्होंने, Harish Rawat पर भी हमला किया."

Amarinder Singh ने बनाई नई पार्टी

इस्तीफ़ा सौंपने के बाद, Capt. Amarinder Singh ने अपनी नई पार्टी 'Punjab Lok Congress' का ऐलान किया है.  Capt. Amarinder Singh पहले ही कह चुके थे, कि वे पंजाब की सभी 117 सीटों पर आगामी चुनाव लडेंगे. कहा जा रहा है, कि नई पार्टी की घोषणा के बाद वे किसान आंदोलन का हल निकलेंगे और बीजेपी को आगामी चुनावों में समर्थन देंगे. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com