UP-TET Paper Leak News: सामने आया बड़ा खुलासा, दिल्ली के छात्रों ने किया था प्रश्नपत्र टाइप

UP-TET Paper Leak News: सामने आया बड़ा खुलासा, दिल्ली के छात्रों ने किया था प्रश्नपत्र टाइप

UP-TET पेपर लीक मामले में अब एक नया खुलासा सामने आया है. उत्तर प्रदेश की Special Task Force (STF) और Special Investigation Team (SIT) को इस मामले की छानबीन के दौरान पता चला है, कि पेपर टाइप कराने के लिए दिल्ली के 4 छात्रों को रखा गया था. आपको बता दें, कि इन 4 छात्रों की बिना जांच-पड़ताल किये कुछ रुपए देकर, इनसे पेपर टाइप कराये गये थे. इसके बाद, नियमों के खिलाफ जाकर 4 अलग-अलग प्रेसों में पेपर छपवाये गये थे. इसमें एक प्रतिष्ठित मीडिया समूह का नाम भी सामने आ रहा है. 

यूपी STF के सब इंस्पेक्टर अक्षय कुमार ने, नोएडा के सूरजपुर थाने में दर्ज कराई गई FIR में, पेपर छापने में बरती गई एक-एक लापरवाही का ज़िक्र किया है. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि पेपर लीक मामले की जांच, अब STF के नेतृत्व वाली SIT कर रही है. इस SIT की टीम में, करीब 15 अधिकारियों को शामिल किया गया है. FIR के मुताबिक, RSM Finserv ने UP-TET का हिन्दी, अंग्रेज़ी, उर्दू और संस्कृत भाषाओं में पेपर टाइप करने के लिए, दिल्ली के स्कूल और कॉलेज के 4 छात्रों को रखा था. 

यूपी STF की टीम ने इन 4 छात्रों से भी पूछताछ की है. पूछताछ में उन्होंने बताया, कि उन्हें सिर्फ टाइपिंग के लिए बुलाया गया था. इसके बदले उन्हें कुछ पैसे भी दिए गए थे. खुलासे में सामने आया है, कि RSM ने पेपर खुद न छापकर दिल्ली, नोएडा, कोलकाता की 4 प्रेसों में पेपर छपवाए थे. वहीं इन 4 प्रेसों में जो पेपर छपे थे, वहां टाइपिंग, डिज़ाइनिंग, प्रूफ रीडिंग की CCTV वीडियो, STF को नहीं मिल पाई है.

UP-TET पेपर लीक मामले में अब तक, करीब 36 लोगों की गिरफ़्तारी हो चुकी है. इसमें पेपर छापने वाली कंपनी RSM Finserv Ltd के अध्यक्ष राय अनूप प्रसाद और परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव संजय उपाध्याय का नाम शामिल है. 

आपको बता दें, कि संजय उपाध्याय ने इस पूरे काम का ठेका, 26 अक्टूबर को नोएडा के 5 सितारा होटल में दिया था. पूरे मामले की जांच यूपी STF के नेतृत्व वाली SIT को दी गई है. अब देखना यह है, कि UP-TET पेपर लीक मामले में और क्या-क्या खुलासे सामने आएंगे. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com