Afghanistan: काबुल में फंसे भारतीयों को लेकर वायुसेना के C-17 एयरक्राफ्ट ने उड़ान भरी

Afghanistan: काबुल में फंसे भारतीयों को लेकर वायुसेना के C-17 एयरक्राफ्ट ने उड़ान भरी

Afghanistan की मौजूदा स्थिति को देखते हुए भारत सरकार ने काबुल में मौजूद भारतीय राजदूत और स्टाफ को वापस बुलाने का निर्णय लिया है. उनके साथ अधिकारी और वहा फंसे भारतीय लोगो को भी एयरलिफ्ट किया गया है. वायुसेना का C-17 एयरक्राफ्ट ने काबुल से 130 से अधिक लोगों को लेकर आज सुबह देश के लिए उड़ान भरी है. एयरक्राफ्ट दोपहर के 1 बजे जामनगर और वहां से गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर पहुंचेगा.

वही, सोमवार को भी Afghanistan में फंसे लोगों को वायुसेना के विमान ने भारत पहुंचाया था. हालांकि अभी पूरी तरीके से भारतीय लोगों को नही लाया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक Afghanistan में भारत के लोग सुरक्षित है, और एक दो दिनों में उन्हें भी वहा से भारत लाया जाएगा. विदेश मंत्रालय का कहना है कि, भारत, Afghanistan की घटना पर नजर बनाए हुए है. हमारे नागरिकों की सुरक्षा के लिए हर संभव कदम उठाए जाएंगे.

विदेश मंत्री S Jaishankar ने कहा की, "हमें मालूम है कि Afghanistan में कुछ भारतीय नागरिक फंसे हुए है जो देश लौटना चाहते हैं. हम उनसे लगातार संपर्क में हैं. हम हर भारतीय से अपील करते हैं कि वे फौरन भारत लौट आएं. हम अफगान सिख, हिंदू समुदायों के प्रतिनिधि से भी लगातार संपर्क में है. जो लोग अफगान से देश लौटना चाहते हैं, उन्हें भारत लाने की पूरी सुविधा दी जाएगी.

Afghanistan में फंसे भारतीयों को वीजा में राहत देने के लिए वीजा नियमों में बदलाव किए गए है. वहां की मौजूदा स्थिति को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक वीजा की नई कैटेगरी 'e-Emergency X-Misc Visa' शुरू की गई है. इससे वहा फंसे लोगों को जल्द से जल्द वीजा मिलेगा. 

वहीं, Afghanistan के एयरपोर्ट पर फिलहाल अमेरिकी सेना के जवानों ने मोर्चा संभाला हुआ है. अमेरीकी सेना ही सारी उड़ानों का व्यवस्था देख रही है. एयरपोर्ट से आ रही तस्वीरें भी काफी भयावह हैं. काबुल एयरपोर्ट पर मौजूदा स्थिति काफी बिगड़ चुकी है. अमेरीका का कहना है कि, काबुल एयरपोर्ट पर उनके 6000 जवान तैनात किए जाएंगे, ताकि लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल सके.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com