Akshaya Tritiya 2022: कई सालों के बाद बन रहा ऐसा राजयोग, यहां पढ़ें पूरी जानकारी

Akshaya Tritiya 2022: कई सालों के बाद बन रहा ऐसा राजयोग, यहां पढ़ें पूरी जानकारी

भारत के सबसे प्रमुख त्योहारों में से एक अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya), हर वर्ष वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है. इस वर्ष भी अक्षय तृतीया 3 मई को भगवान विष्णु, देवी लक्ष्मी और श्री गणेश की पूजा करके मनाई जाएगी. ऐसी भी मान्यताएं हैं, कि अक्षय तृतीया के दिन भगवान परशुराम का जन्म हुआ था. हालांकि, इस साल यह त्योहार कुछ ज़्यादा ही खास होने वाला है. दरअसल, अक्षय तृतीया के दिन इस बार खरीदारी के लिए अबूझ मुहूर्त के साथ, बहुत शानदार राजयोग भी बन रहे हैं.

कई सालों के बाद बना है ऐसा राजयोग

इस साल, अक्षय तृतीया पर 50 वर्षों के बाद शानदार राजयोग बन रहा है. दरअसल, इस दिन ग्रहों की स्थिति बहुत ही शुभ मानी जा रही है. ज्योतिषों की मानें, तो इस बार अक्षय तृतीया के दिन रोहिणी नक्षत्र और शोभन योग की वजह से मंगल रोहिणी योग बन रहा है. इसके साथ ही, इस दिन चार बड़ी राशियों में चंद्रमा अपनी उच्च राशि वृषभ, शुक्र अपनी उच्च राशि मीन, शनि अपनी स्वराशि कुभं और बृहस्पति अपनी स्वराशि मीन में मौजूद होंगे.

राशियों का ऐसा संयोग, 50 वर्षों के बाद देखने को मिल रहा है. ऐसे में आप इस अबूझ मुहूर्त में किसी भी समय मांगलिक कार्य कर सकते हैं. इसके साथ ही सोना, चांदी, दुकान, वाहन और प्रॉपर्टी की खरीदारी भी कर सकते हैं.

अक्षय तृतीया का महत्व

हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, अक्षय तृतीया के दिन दान-पुण्य के कार्य करने से, शुभ फल की प्राप्ति होती है. इस दिन पंचांग को देखे बिना भी, शुभ काम किया जा सकता है. इस दिन विवाह, गृह-प्रवेश, वस्त्र-आभूषणों आदि की खरीददारी जैसे कार्य किए जा सकते हैं. पुराणों में लिखा है, कि इस दिन पितरों को तर्पण और पिन्डदान करने से बेहद लाभ होता है.

अक्षय तृतीया का शुभ मुहूर्त

इस साल, अक्षय तृतीया के दिन सोना खरीदने के लिए शुभ मुहूर्त, सुबह 05:18 से सुबह 06:05 के बीच का है. वहीं पूजा के लिए, मंगलवार 3 मई को सुबह 06:05 से दोपहर 12:37 तक का शुभ मुहूर्त है.

Related Stories

No stories found.