बीस्ट के हिंदी वर्ज़न को मिला U/A सर्टिफिकेट, रिलीज़ से पहले लोगों में दिखा थलापति विजय का क्रेज़

बीस्ट के हिंदी वर्ज़न को मिला U/A सर्टिफिकेट, रिलीज़ से पहले लोगों में दिखा थलापति विजय का क्रेज़

एक तरफ बॉक्स ऑफिस पर एसएस राजामौली (S.S. Rajamouli) की फिल्म आरआरआर (RRR) कमाई के सारे रिकाॅर्ड तोड़ रही है. तो दूसरी ओर, तेलुगु अभिनेता थलापति विजय (Thalapathy Vijay) की फिल्म बीस्ट (Beast) बुधवार 13 अप्रैल को रिलीज़ होगी. वहीं अब एक बड़ी खबर सामने आई है, कि फिल्म के हिंदी वर्ज़न 'रॉ' (Raw) को केंद्रीय फ़िल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) से U/A सर्टिफिकेट मिल गया है.

सोमवार को फिल्म बीस्ट की रिलीज़ से 2 दिन पहले, फ़िल्म के हिंदी वर्ज़न 'रॉ' को केंद्रीय फ़िल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) द्वारा, U/A सर्टिफिकेट दिया गया है. इसका मतलब यह है, कि 18 साल से कम उम्र के बच्चे भी यह फ़िल्म अपने मां-बाप के साथ देख सकते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि फ़िल्म का हिंदी वर्ज़न कुल 2 घंटे 38 मिनट 22 सेकेंड का है.

दक्षिण के सुपरस्टार थलापति विजय फ़िल्म 'बीस्ट' में वीरा राघवन का किरदार निभाएंगे. वहीं फ़िल्म के हिंदी ट्रेलर में अभिनेता एक हिंसक रॉ एजेंट की भूमिका में नज़र आ रहे हैं. फ़िल्म की कहानी एक मॉल में किडनैप किए गए लोगों को छुड़ाने की कोशिश पर आधारित है. इस फ़िल्म में थलापति विजय के अलावा, अभिनेत्री पूजा हेगड़े (Pooja Hegde) भी मुख्य भूमिका निभाएंगी.

दूसरी ओर, थलापति विजय की फ़िल्म बीस्ट का क्रेज़ रिलीज़ से पहले इतना बढ़ गया है, कि कई कंपनियों ने 13 अप्रैल को अवकाश की घोषणा भी कर दी. इसके साथ ही, कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को मुफ्त में टिकट देना भी शुरू कर दिया, जिससे वह सब अपने पसंदीदा अभिनेता की फ़िल्म को देख सकें. तमिलनाडु में कंपनियों के कुछ आधिकारिक पत्र ट्विटर पर काफी तेज़ी से वायरल हो रहे हैं, जिसमें 13 अप्रैल को अवकाश की घोषणा की गई है.

दक्षिण फ़िल्मों के आगे फीकी हुई बॉलीवुड की चमक

आज के समय में लोगों का रुचि दक्षिण फ़िल्म इंडस्ट्री की ओर बढ़ती दिख रही है. लोग आज बॉलीवुड से ज़्यादा, दक्षिण की फिल्में देखना पसंद कर रहे हैं, जिसका सबसे बड़ा उदाहरण हाल ही में रिलीज़ हुई फ़िल्म 'आरआआर' से लगाया जा सकता है. जहां बॉलीवुड की फिल्मों को 200 करोड़ का आंकड़ा छूने में कई हफ्ते लग जाते हैं, वहीं दक्षिण की फिल्में रिलीज़ के पहले ही दिन इस जादूई आकड़े को छूने में कामयाब हो रही हैं.

Related Stories

No stories found.