Raj Kundra Case: पोर्नोग्राफी मामले में खुद पर लगे आरोपों पर बोले सहयोगी Yash Thakur, कहा ‘मुझे फ़साने की धमकी दी जा रही है’

Raj Kundra Case: पोर्नोग्राफी मामले में खुद पर लगे आरोपों पर बोले सहयोगी Yash Thakur, कहा ‘मुझे फ़साने की धमकी दी जा रही है’

Raj Kundra के सहयोगी Yash Thakur उर्फ Arvind Shrivastava ने पोर्नोग्राफी मामले में खुद पर लगे सभी आरोपों को गलत बताया है. उन्होंने बताया कि उनपर वसूली के लिए दबाव डाला जा रहा है. Yash Thakur ने अपने वकील के माध्यम से मुंबई पुलिस को एक पत्र लिखा है. उस पत्र में यह उल्लेख किया है कि उन्होंने मजिस्ट्रेट अदालत में आवेदन दायर कर अनुरोध किया है की उनके और उनके परिवार के बैंक खातों को बंद कर दिया जाए.

एक खबर के मुताबिक, Yash Thakur ने यह दावा किया है कि, उन्हें जनवरी 2021 से न्यूफ्लिक्स कंपनी के साथ अपने जुड़ाव के संबंध में जबरन वसूली के फोन आ रहे थे. "मैंने फोन करने वाले को कहा कि मैं कंपनी का मालिक नहीं हूं. मैं यह राशि का भुगतान नहीं कर सकता. मुझे फ़साने की धमकी दी जा रही है. इसके बाद यह सब फरवरी 2021 में फिर से किया गया." 

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि मुंबई पुलिस द्वारा Raj Kundra पोर्नोग्राफी मामले की जांच अभी चल रही है. इस बीच मुंबई पुलिस ने Yash Thakur पर आरोप लगाया है कि, उन्होंने Raj Kundra की कंपनी द्वारा बनाई गई अश्लील फिल्मों के वितरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. Yash ने इन सभी आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि, "मैंने अपने वकील के माध्यम से स्पष्ट किया है कि न्यूफ्लिक्स एक अमरिकी कंपनी है. मुझे इस कंपनी में सलाहकार के रूप में रखा गया था. मैंने Raj Kundra या उनके किसी सहयोगी से कभी भी बात नहीं की." 

Yash Thakur ने आगे कहा, "मैंने गहना का इंटरव्यू सुना है. गहना ने पुलिस पर आरोप लगाए थे कि पुलिस के द्वारा उनसे पैसे मांगे जा रहे हैं, और यह सच भी है. उनके वकील ने मुझे बताया कि पुलिस पैसे की मांग कर रही है. वकील ने  मुझसे पूछा कि क्या मैं कुछ और पैसे की व्यवस्था कर सकता हूं क्योंकि गहना केवल 6 से 7 लाख रुपए का प्रबंध ही कर सकती है. उनके वकील के फोन पर करीब 10 से 15 लाख रुपए की मांग की गई थी."

इसके अलावा Yash Thakur ने कहा कि, "पोर्नोग्राफी शब्द का उपयोग करना गलत था. उन्होंने कहा, इस मामले को पाॅर्न रैकेट से जोड़ना इस मामले को और सनसनीखेज़ बना रहा है. जो पूरी तरह से गलत है. अगर निर्वस्त्रता को पाॅर्न के रूप में देखा जाता है तो Anurag Kashyap की 'Sacred Games', Shekhar Kapur की 'Bandit Queen' और Mira Nair  की 'Kamasutra' भी इस श्रेणी में आती हैं. पुलिस द्वारा हम पर आरोप तय करने के लिए धारा 67 का प्रयोग किया जा रहा है."

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com