Kangana Ranaut Update: राष्ट्रवाद पर फिर भड़कीं अभिनेत्री, कहा ‘देश में रहने वाला हर नागरिक सिर्फ़ भारतीय’

Kangana Ranaut Update: राष्ट्रवाद पर फिर भड़कीं अभिनेत्री, कहा ‘देश में रहने वाला हर नागरिक सिर्फ़ भारतीय’

Kangana Ranaut, इन दिनों सोशल मीडिया पर काफ़ी सक्रिय नज़र आ रही हैं. अभिनेत्री के सामने चाहे कितनी भी मुश्किलें आयें या विवादों का सामना क्यों न करना पड़े, वह कभी अपना पक्ष रखने से नहीं कतरातीं. हर दूसरे दिन, अभिनेत्री अपने सोशल मीडिया पर देश के महत्वपूर्ण विषयों पर खुलकर अपना पक्ष रखती हैं. हाल ही में, जहां उन्होंने कृषि कानून वापस लेने के फैसले पर नाराज़गी जताई, वहीं अब Kangana ने राष्ट्रवाद जैसे अहम विषय पर अपना पक्ष रखा है.

दरअसल, Kangana Ranaut ने अपने इंस्टाग्राम स्टोरी पर अपने विचार व्यक्त करते हुए, राष्ट्रवाद जैसे गंभीर विषय पर एक लंबा सा संदेश शेयर किया. उन्होंने लिखा, कि "देश में होने वाले विद्रोहाें का कारण, यहां के लोगों के साथ होने वाला भेदभाव है." उन्होंने इसके कई उदाहरण देते हुए कहा, "जैसे जब दक्षिण भारत के लोगों के साथ उत्तर भारत के लोगों ने भेदभाव किया था, तब द्रविड़ विद्रोह का उदय हुआ था. ठीक उसी तरह, खालिस्तानी विद्रोह भी उत्तर भारत के सिखों के साथ हुए भेदभाव का परिणाम था." 

Kangana Ranaut ने आगे बताते हुए कहा, कि इस प्रकार से देश के हर हिस्से में छोटे-छोटे तबकों को भेदभाव का शिकार होना पड़ता है. अभिनेत्री हर जाति के साथ समान व्यवहार न होने को देश की गंभीर समस्या ठहराती हैं. इसके साथ ही वह कहती हैं, कि "अगर इस देश के हर नागरिक को हिंदू, मुस्लिम आदि जैसे न देखकर, सिर्फ़ भारतीय होने के नज़रिए से देखा जाए, तो देश के हालातों में सुधार आ पाएगा."

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि Kangana Ranaut ने हाल ही में कृषि कानून वापस लेने पर अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की थी. अभिनेत्री ने तब कुछ विवादित भी शब्द कहे थे, जिस पर उन्हें विवादों का सामना भी करना पड़ा. वहीं उनके इस बयान पर गुस्साए सिख, उनके खिलाफ़ कार्यवाही किए जाने की मांग कर रहे हैं. इसके अलावा, लोग भारत के राष्ट्रपति Ram Nath Kovind से अभिनेत्री का पद्म श्री पुरस्कार वापस लेने की मांग भी कर हे हैं. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com