Kishore Kumar Death Anniversary: जानिए 'किशोर दा' की ज़िंदगी के कुछ अनसुने किस्से

Kishore Kumar Death Anniversary: जानिए 'किशोर दा' की ज़िंदगी के कुछ अनसुने किस्से

Image Source

किशोर कुमार (Kishore Kumar), मनोरंजन जगत का एक ऐसा नाम है जिसे कभी अलग से किसी परिचय की कोई ज़रूरत नहीं पड़ी. हिंदी और बंगाली फिल्मों के इस लेजेंड गायक की जादुई आवाज़ आज भी लोगों के दिलों में बसी हुई है. आज इस महान गायक की 35वीं पुण्यतिथि के मौके पर, आइए हम आपको उनकी ज़िंदगी के कुछ अनसुने किस्सों से रूबरू करवाते हैं.

बचपन में 'किशोर दा' की आवाज़ में नहीं था सुर?

आपको यह जानकर हैरानी होगी, कि जिनकी मखमली आवाज़ आज भी हमारे दिलो दिमाग में बसी है, उन किशोर कुमार की आवाज़ कभी फटे बांस जैसी थी. बचपन का एक किस्सा बताते हुए, किशोर दा के बड़े भाई अभिनेता अशोक कुमार (Ashok Kumar) ने इस बात की पुष्टि की थी.

उनके मुताबिक, बहुत छोटी उम्र में एक बार गायक के पैरों में चोट लग गई, जिसके बाद लागतार तीन दिनों तक वो रोते रहें. इसके बाद अचानक से उनकी आवाज़ सुरीली हो गई और इसके बाद उन्होंने ऐसा इतिहास रचा, कि आज की युवा पीढ़ी भी उनकी आवाज़ की दीवानी है.

महिला की आवाज़ में भी किया था प्लेबैक

साल 1962 की फिल्म हाफ टिकट (Half Ticket) का गाना, 'आके सीधी लगी' (Aake Seedhi Lagi) तो आप सभी ने सुना होगा. यह गाना अपने आप में इतना मज़ेदार है, कि आज भी लोगों के प्लेलिस्ट में अपनी जगह बनाए हुए है. लेकिन क्या आप जानते हैं, कि इस गाने में मेल और फीमेल दोनों प्लेबैक किशोर कुमार ने ही किया था? जी हां, और इसी जानकारी ने इस गाने को और भी ज्यादा पॉपुलर बना दिया था.

लता दीदी से 1 रुपए कम लेते थे फीस

महान गायक लता मंगेश्कर (Lata Mangeshkar) के साथ किशोर कुमार का रिश्ता बहुत स्नेह भरा था. दोनों ने साथ में कई यादगार गानों को अपनी जादुई आवाज़ से सजाया था. किशोर दा लता दीदी की इतनी इज्ज़त करते थे, कि उन्होंने हर निर्माता को यह कह रखा था, कि जितनी फीस वो लता दीदी को दे रहे हैं, उससे एक रुपया कम उन्हें दे.

किशोर कुमार के गानों पर क्यों लगा दिया गया था बैन?

एक बार इमरजेंसी के दौरान देश की प्रधानमंत्री रहीं इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) से किसी बात पर किशोर दा की अनबन हो गई थी. इसका नतीजा यह हुआ, कि उस दौरान उनके गानों पर बैन लगा दिया गया. हालांकि कुछ वक्त बाद यह बैन उठा लिया गया था.

बड़े भाई के जन्मदिन पर दुनिया को कह दिया अलविदा

किशोर कुमार की मृत्यु 13 अक्टूबर 1987 को हुई थी. वहीं उनके बड़े भाई अशोक कुमार का जन्म भी 13 अक्टूबर को ही हुआ था. अपने ही जन्मदिन पर अपने छोटे भाई को खो देने के बाद से, अभिनेता अशोक कुमार ने कभी अपना जन्मदिन नहीं मनाया. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि किशोर कुमार का जन्म 4 अगस्त 1929 को आभास कुमार गांगुली के नाम से हुआ था. उनकी पुण्यतिथि पर आज पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है.

यह भी पढ़ें: एक खूबसूरत दोस्ती की कहानी लेकर आ रही है यारियां 2, 2023 में होगी रिलीज़

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com