नासिक में ऑक्सीजन टैंक लीक होने से 22 लोगों की जान गई

An oxygen cylinder for patients inside an isolation ward at the Commonwealth Games Village Sports Complex which is temporarily converted into a coronavirus care Centre in New Delhi, India on July 14, 2020. This sports complex is equipped with a bed capacity of 500 and is attached to LNJP hospital to treat mild and asymptomatic patients infected with corona virus. (Photo by Mayank Makhija/NurPhoto via Getty Images)
An oxygen cylinder for patients inside an isolation ward at the Commonwealth Games Village Sports Complex which is temporarily converted into a coronavirus care Centre in New Delhi, India on July 14, 2020. This sports complex is equipped with a bed capacity of 500 and is attached to LNJP hospital to treat mild and asymptomatic patients infected with corona virus. (Photo by Mayank Makhija/NurPhoto via Getty Images)

नासिक के जाकिर हुसैन अस्पताल में हुआ हादसा, मरने वालों में कोरोना मरीज शामिल

जहां एक ओर देश के अस्पताल ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं, वहीं नासिक में ऑक्सीजन का टैंक लीक होने की वजह से 22 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। नासिक के जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन आपूर्ति करते समय यह हादसा हुआ। जिलाधिकारी सूरज मंधारे ने बताया है कि मरने वाले सभी लोग कोरोना से पीड़ित थे। 

नासिक के जिलाधिकारी सूरज मंधारे ने बताया है कि जिले के जाकिर हुसैन अस्पताल में यह हादसा हुआ है। हादसे में मारे गए सभी व्यक्ति वेंटिलेटर पर थे और ऑक्सीजन आपूर्ति पर भी निर्भर थे। जिस समय यह हादसा हुआ उस समय ऑक्सीजन सप्लाई टैंक से सिलेंडर भरे जा रहे थे। सप्लाई टैंक में लीक होने के चलते ऑक्सीजन आपूर्ति में बाधा आ गई, जिसकी वजह से 22 लोगों की जान चली गई। इस समय अस्पताल में ऑक्सीजन की पूर्ति के लिए जिले के अन्य अस्पतालों से ऑक्सीजन मंगाई जा रही है।

इस मामले का जायजा लेते हुए राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि उनकी नासिक के नगर निगम चेयरमैन से बात हो गई है। अब स्थिति नियंत्रण में हैं। मैं जल्द ही नासिक के लिए प्रस्थान करूंगा। नासिक से ताल्लुक रखने वाले मंत्री छगन भुजबल पहले ही वहां के लिए  रवाना हो चुके हैं। 

वहीं राज्य के खाद्य एवं औषधि मंत्री राजेंद्र सिंहाने ने घटना की जानकारी देते हुए कहा कि 'नगर निगम द्वारा संचालित इस अस्पताल में इलाज करा रहे 11 कोरोना मरीजों की हादसे में जान चली गई है। साथ ही उन्होंने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। शुरुआती जानकारी से पता चला है कि घटना में 11 लोगों की जान चली गई है। हम मामले की विस्तारपूर्वक जानकारी लेने का प्रयास कर रहे हैं। साथ ही मामले की जांच के भी आदेश दे दिए गए हैं। जो भी लोग इस घटना के लिए जिम्मेदार होंगे, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।' प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं ने इस घटना के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com