Covid-19 Vaccine : वैक्सीन की बर्बादी पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने व्यक्त की चिंता, कई राज्यों में 30 प्रतिशत तक खराब हो रही हैं वैक्सीन।

Covid-19 Vaccine : वैक्सीन की बर्बादी पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने व्यक्त की चिंता, कई राज्यों में 30 प्रतिशत तक खराब हो रही हैं वैक्सीन।
NOIDA, INDIA - JANUARY 11: A health worker seen next to a vaccine carrier during a dry-run of Covid-19 vaccine at Bhangel CHC hospital, on January 11, 2021 in Noida, India. Prime Minister Narendra Modi on Monday spoke on India's vaccination plan ahead of the mega Covid-19 vaccination drive, which is set to start on 16 January, 2021. Around 3 crore healthcare workers and frontline workers will be vaccinated in the first phase of vaccination. In the 2nd phase, those above 50 years and those under 50 years with co-morbid conditions will be vaccinated," the Prime Minister said. (Photo by Sunil Ghosh/Hindustan Times via Getty Images)

स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी देते हुए कहा कि राज्यों को खराब वैक्सीनों (`Covid-19 Vaccine) का आंकड़ा 1 प्रतिशत से कम रखने को कहा गया है। कई राज्यों में खराब वैक्सीनों का स्तर, राष्ट्रीय औसत से कहीं अधिक है, झारखंड में 37.3 प्रतिशत वैक्सीन(Covid-19 Vaccine) खराब हो रहीं है तो वहीं छत्तीसगढ़ में  यह आंकड़ा 30.2 प्रतिशत है।

राज्यों में वैक्सीनों (`Covid-19 Vaccine)  की हो रही बर्बादी पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने चिंता व्यक्त की है। एक ओर जहां देश में पहले ही वैक्सीन की उपलब्धता कम है, तो वहीं राज्यों में उपलब्ध वैक्सीन की बर्बादी चिंताजनक है। बुधवार को जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि राज्यों में खराब हो रही वैक्सीनों का राष्ट्रीय औसत 6.3 प्रतिशत है। लेकिन कुछ राज्यों में खराब वैक्सीनों का प्रतिशत राष्ट्रीय औसत से कहीं अधिक है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस पर चिंता व्यक्त करते हुए राज्यों को खराब वैक्सीनों (`Covid-19 Vaccine) का आंकड़ा 1 प्रतिशत से कम रखने को कहा है।

झारखंड, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, जम्मू कश्मीर में खराब हुई वैक्सीनों का प्रतिशत देश मे सर्वाधिक है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, झारखंड में 37.3 प्रतिशत वैक्सीन (`Covid-19 Vaccine)  खराब हो रहीं है तो वहीं छत्तीसगढ़ में आंकड़ा 30.2 प्रतिशत है। तमिलनाडु में खराब वैक्सीनों (`Covid-19 Vaccine)  का स्तर 15.5 प्रतिशत है, जम्मू कश्मीर में 10.8 प्रतिशत और मध्यप्रदेश में 10.7 प्रतिशत वैक्सीन खराब हुई हैं। 

दो हफ्ते पहले इस लिस्ट में हरियाणा शीर्ष स्थान पर रहा था। राज्य में 6 प्रतिशत कोविशिल्ड वैक्सीन(Covid-19 Vaccine) बर्बाद होने की रिपोर्ट आयी थी। इसके साथ ही 10.2 प्रतिशत कोवैक्सीन भी बर्बाद हुईं है। हरियाणा के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी राजीव तिवारी ने मंगलवार को बताया की वैक्सीन की बर्बादी कम कर ली गयी है। आंकड़ो के अनुसार दोनों वैक्सीन की बर्बादी को क्रमशः 3.1% और 2.4 % कर लिया गया है।

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com