बिहार सरकार ने घोषित किया 15 मई तक का सम्पूर्ण लॉक डाउन।

बिहार सरकार ने घोषित किया 15 मई तक का सम्पूर्ण लॉक डाउन।

बिहार सरकार ने 15 मई तक घोषित किया संपूर्ण लॉकडाउन सिर्फ जरूरी सेवाओं को ही मिली छूट। 

बिहार सरकार ने पूरे राज्य में 15 मई तक लॉकडाउन घोषित कर दिया है। बिहार में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर सरकार ने यह कदम ज़रूरी समझा है। बहुत से उद्योग मालिकों ने सरकार के इस कदम की काफी सराहना भी की है।

लॉकडाउन की गाइडलाइंस को लेकर जरूरी सूचना देते हुए सरकार ने कहा कि "फल, सब्जी, मांस, मछली, दूध इत्यादि की दुकानें सुबह 7 बजे से 11 बजे तक खुली रहेंगी। दुकानों के शटर केवल चार घंटे के लिए ही ऊपर होंगे। आवश्यक सेवाएं, जैसे मेडिकल स्टोर, लैब, पेट्रोल पंप इत्यादि में ये बंदिशें लागू नहीं होंगी। वहीं सभी तरह के स्कूल, कोचिंग समेत शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। लॉकडाउन के दौरान किसी भी तरह की परीक्षाएं नहीं ली जाएंगी। रेल परिचालन पहले की तरह सामान्य रूप से होगा"।

बिहार में लॉकडाउन लगाने की सूचना स्वयं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर दी।

उन्होंने कहा कि,"राज्य में COVID-19 मामलों की निरंतर वृद्धि के बीच मंगलवार को पूरे बिहार में 15 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा रहा है"।

आज जहां देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते दिखाई दे रहे हैं। वहां लॉकडाउन को आखिरी विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है। बहुत से मुख्यमंत्री अपने राज्यों में लॉकडाउन लगाने का फैसला ले रहे हैं । इसके पहले दिल्ली ,कर्नाटक, पंजाब ,आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र ने भी संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है।गौरतलब है, कि रोजाना देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि होती दिखाई दे रही है। बिहार में बढ़ते कोरोना वायरस को लेकर हाईकोर्ट ने बिहार की सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि,"आपकी सरकार के पास कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कोई प्रभावी नीति नहीं है ,इससे पहले भी जो नीति आपने बनाई थी वह 15 अप्रैल तक लागू नहीं की गई है। यदि आपकी सरकार को यह जरूरी लगता है कि कोरोना संक्रमण को लॉकडाउन  लगाकर ही रोका जा सकता है तो लॉकडाउन लगाने में कोई संकोच न किया जाए"।

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com