Covid-19 New Variant Omicron: अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए जारी किए गए नए नियम

Covid-19 New Variant Omicron: अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए जारी किए गए नए नियम

Covid-19 वायरस Omicron से बचाव के लिए भारत समेत विश्व के सभी देश अपनी-अपनी कोशिशें कर रहे हैं. इन कोशिशों में सबसे पहले अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए सख्त गाइडलाइंस बनाई गई हैं. अभी तक की खबरों के मुताबिक, Omicron वैरिएंट सिर्फ अफ्रीका और यूरोप के कुछ देशों में ही पाया गया है. इसलिए उन देशों से आने वाले यात्रियों के लिए भारत में भी नए नियम लागू किए गए हैं.

अब अगर कोई अंतर्राष्ट्रीय यात्री भारत आता है, तो उसको Covid-19 नेगेटिव RT-PCR रिपोर्ट जमा करवानी होगी. उसके बाद ही, उसे भारत में दाखिल किया जाएगा. अगर कोई यात्री नेगेटिव रिपोर्ट जमा करवा भी देता है, तो भी उसे 2 सप्ताह के क्वारंटाइन में रहना पड़ेगा.

नए नियमों के चलते देश भर के हवाई अड्डों पर लंबी वैटिंग लाइन शुरू हो गई है. उदाहरण के लिए, दिल्ली और चेन्नई में यात्रियों को अपने परिणामों के लिए छह घंटे तक प्रतीक्षा करने के लिए मजबूर कर दिया है. इसके अलावा, सीमा शुल्क और अन्य नियमित आव्रजन औपचारिकताओं पर अलग से समय खर्च हो रहा है. इससे यात्रियों को काफी लंबे समय तक इंतजार करना पड़ रहा है.

26 नवंबर 2021 को, यूरोप, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इज़राइल को जोखिमपूर्ण यानी हाई रिस्क देश घोषित कर दिया गया है. इन राष्ट्रों में से, कुछ यूरोपीय देशों (यूके, जर्मनी, स्पेन, बेल्जियम, इटली और नीदरलैंड सहित) के अलावा, दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, इज़राइल और हांगकांग ने Covid -19 के नए वैरिएंट Omicron ke संक्रमण मामलों की पुष्टि की है.

भारत के स्वास्थ्य मंत्री Mansukh Mandaviya ने बताया, कि Covid-19 वायरस के Omicron वैरिएंट में से ज्यादा रिप्लिकेशंस हो चुकी हैं. इस वजह से यह वैरिएंट डेल्टा वेरिएंट से ज्यादा घातक माना जा रहा है. लेकिन इस वायरस के संक्रमण का एक भी केस अभी तक भारत में नहीं मिला है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com