राज्य सरकार को 400 रुपए तो निजी अस्पतालों को 600 रुपए में वैक्सीन देगा सीरम इंस्टीट्यूट

A medical worker inoculates a man with a dose of the Covishield coronavirus vaccine at a civil hospital in Amritsar on April 21, 2021. (Photo by NARINDER NANU / AFP) (Photo by NARINDER NANU/AFP via Getty Images)
A medical worker inoculates a man with a dose of the Covishield coronavirus vaccine at a civil hospital in Amritsar on April 21, 2021. (Photo by NARINDER NANU / AFP) (Photo by NARINDER NANU/AFP via Getty Images)

देश में टीका लगवाने की आयु 45 वर्ष से घटाकर 18 वर्ष कर दी गई है

देश में कोरोना की दूसरी लहर ने भयावह स्थिति पैदा कर दी है। रोजाना लाखों लोग संक्रमित पाए जा रहे हैं। इस से निपटने के लिए सरकार स्वास्थ्य सेवाओं पर जोर दे रही है। कर्फ्यू लगा कर कोरोना चैन को तोड़ने की कोशिश जारी है। वहीं केंद्र सरकार ने 1 मई 2021 से टीका लगाने की न्यूनतम आयु घटाकर 18 वर्ष कर दी है। बता दें कि इससे पहले केवल 45 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को ही टीका लगाया जा रहा था। वैक्सीन बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा है कि राज्य सरकारों को टीके के लिए 400 रूपए तो वहीं निजी अस्पतालों को 600 रुपए अदा करने होंगे।

सीरम इंस्टीट्यूट ने भारत में टीकाकरण अभियान में तेजी लाने व अपने उत्पादों की कीमत जारी करते हुए यह घोषणा की है। सीरम इंस्टीट्यूट वैक्सीन के लिए राज्य सरकार से 400 रूपए तो निजी अस्पतालों से 600 रुपये वसूलेगा। संस्थान ने साथ ही यह भी कहा है कि उनकी निर्माण क्षमता के पचास प्रतिशत हिस्से से केंद्र सरकार के टीकाकरण अभियान में योगदान दिया जाएगा, बाकी के पचास प्रतिशत से राज्य सरकारों और प्राइवेट अस्पतालों की मांगें पूरी की जायेंगी। कंपनी की तरफ से ये भी कहा गया है कि अगले दो महीने, मांग को देखते हुए निर्माण क्षमता सीमित ही रखी जाएगी, उसके बाद कंपनी वैक्सीन निर्माण में गति लाने का काम करेगी। कंपनी ने रिटेल क्षेत्र में वैक्सीन की उपलब्धता पर कहा कि वह अगले चार पांच महीनों में रिटेल सेक्टर में वैक्सीन उपलब्ध कराने में कामयाब हो जाएंगे।

कल रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता को संबोधित करते हुए धैर्य बनाए रखने का आह्वान किया। साथ ही उन्होंने कहा कि 1 मई से गरीब और मजदूर लोगों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जाएगी। बता दें देश में 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था। अप्रैल माह में टीका लगवाने की न्यूनतम आयु घटाकर 45 साल कर दी गई। अब बढ़ते कोरोना संकट को देखते हुए इसे 18 साल किया गया है। 

टैग्स – कोरोना वायरस, कोविड 19, SARS-CoV-2, सीरम इंस्टीट्यूट, नरेंद्र मोदी ,कोवैक्सिन, कोविशील्ड, टीकाकरण अभियान, आदर पूनावाला, सीरीज पूनावाला, ट्विटर

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com