Covid-19 Latest Updates: देश में तेजी से बढ़ रही कोरोना की रफ्तार, CBSE ने जारी किए नए दिशा-निर्देश

Covid-19 Latest Updates: देश में तेजी से बढ़ रही कोरोना की रफ्तार, CBSE ने जारी किए नए दिशा-निर्देश

देश में कोरोना ने एक बार फिर अपनी रफ्तार पकड़ ली है. लगातार तेजी से बढ़ रहे मामलों ने प्रशासन और लोगों की चिंता को बढ़ा दी है. पिछले 24 घंटों में देश में कोविड-19 (Covid-19) के 3 हजार 688 नए मामले दर्ज हुए हैं, जो कल के मुकाबले ज्यादा हैं. वहीं, इस दौरान 50 लोगों की इस महामारी से मौत हुई है.अब तक देश में कोविड-19 से कुल 5 लाख 23 हजार 803 लोगों की मौत हो चुकी है. पिछले 24 घंटों में मिले नए मामलों के बाद, अब देश में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 18 हजार 684 हो गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) के मुताबिक, देश में कुल कोविड संक्रमितों की संख्या बढ़कर 430,72,176 पर पहुंच चुकी है. आपको बता दें, कि देश में फिलहाल रिकवरी रेट 98.74 फीसदी दर्ज की गई है. वहीं, पिछले 24 घंटों में देशभर में कुल 2,755 मरीज ठीक हुए हैं. जिसके बाद, इस महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या 425,333,77 हो गई है.

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, अब तक देश में कुल 83.74 करोड़ सैंपल की टेस्टिंग हो चुकी है. वहीं, पिछले 24 घंटों के भीतर 4,96,640 सैंपल की जांच की गई है. मंत्रालय के मुताबिक, राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान के तहत, अब तक देशभर में कुल 188.89 करोड़ वैक्सीन की डोज़ लोगों को दी जा चुकी हैं.

कोविड-19 के प्रीकॉशन डोज़ के टाइम गैप में नहीं हुई कमी

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि कोरोना के खिलाफ लगाई जाने वाली वैक्सीन की प्रीकॉशन डोज के समय को लेकर चल रहीं अटकलों पर अब विराम लग गया है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया है, कि भारत सरकार (GOI) ने प्रीकॉशन डोज़ के समय के अंतराल को नौ महीने से घटाकर छह महीने नहीं किया है. इससे पहले यह अटकलें लगाई जा रही थीं, कि दूसरे और तीसरी डोज के बीच के अंतराल को घटाकर 9 से 6 महीने कर दिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. सूत्रों के अनुसार, राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समिति (NTAGI) की मीटिंग में यह फैसला लिया गया है.

12-17 साल के बच्चों के लिए कोवोवैक्स को मिली सरकारी पैनल की मंजूरी

आपको बता दें, कि कोरोना वायरस से लड़ाई में भारत को जल्द ही एक और वैक्सीन का तोहफा मिल सकता है. दरअसल, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) द्वारा विकसित नई कोरोना वैक्सीन 'कोवोवैक्स' (Covovax) को 12-17 साल के बच्चों पर इस्तेमाल के लिए, राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समिति की तरफ से मंजूरी मिल गई है. अब NTAGI, इस प्रस्ताव को सरकार के सामने रखेगा, जिसके बाद, दवा नियंत्रक महानिदेशक (DCGI) इसके आपातकाल इस्तेमाल की मंजूरी दे सकता है.

दिल्ली में बढ़ते मामलों के बीच सीबीएससी ने जारी किए दिशा-निर्देश

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने दिल्ली में बढ़ते कोविड-19 के ​​​​मामलों के साथ-साथ भीषण गर्मी को देखते हुए स्कूलों के लिए एक नोटिस जारी किया है. सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने परीक्षा केंद्रों के अधीक्षकों को पत्र लिखकर यह जानकारी दी है, कि 10वीं व 12वीं कक्षा की परीक्षा में आने वाले छात्रों की जांच हेतु थर्मामीटर खरीद के लिए 5,000 रुपए और प्रति दिन प्रति उम्मीदवार, 5 रुपए का भुगतान किया गया है.

इसके अलावा, भीषण गर्मी को देखते हुए, छात्रों के लिए पीने के पानी की व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए गए हैं. सीबीएसई ने पीने योग्य पानी उपलब्ध कराने के लिए प्रति उम्मीदवार, प्रति दिन 2 रुपए का भुगतान करने का भी फैसला किया है. सोशल डिस्टन्सिंग के मद्देनजर, इस साल प्रत्येक कक्षा में सिर्फ 18 छात्रों को बैठने की अनुमति दी जा रही है. वहीं, कोरोना पीड़ित छात्रों को अलग क्लासरूम मुहैया कराया जा रहा है.

कोविड-19 के लक्षण और बचाव

देश में कोविड-19 एक बार फिर से पैर पसारने लगा है. वहीं, इससे होने वाले लक्षण भी मामूली हैं. जिसकी वजह से यह और ज्यादा खतरनाक बनता जा रहा है. इसके लक्षण बुखार, थकान, सूखी खांसी,

नाक का बंद होना, गले की खराश और सांस लेने में कठिनाई हैं. वहीं, इससे बचाव की बात की जाए, तो नियमित समय से हाथ धोना, सामाजिक दूरी का पालन करना, मास्क पहनना और सरकार द्वारा चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत कोविड-19 की डोज़ लेना अनिवार्य है.

Related Stories

No stories found.